सीतापुरः सरायन स्वच्छता का सफर पहुंचा दुर्गापुरवा, विधायक राकेश राठौर का प्रयास रंग लाया

59

सीतापुर। शहर को अलग-अलग दिशाओं में घुमावदार सरायन नदी तीन ओर से छूती है। हरदोई मार्ग से पुराने शहर होते हुए सरायन तरीनपुर शास्त्रीय नगर व ताड़कनाथ मंदिर होते हुए गोपाल घाट तक पहुंचती है। सरायन की स्वच्छता और जलवृद्धि का प्रयास रंग ला रहा है। गोपाल घाट तक सरायन की सेहत को दुरूस्त करने की विधायक की मुहिम सफल हो चुकी है। लेकिन सरायन को पुर्नजीवन मिलने का सफर अभी जारी है। ढाई सौ दिनों में सरायन को कई घाटों पर निर्मल कर अब स्वच्छता की अलख मोहल्ला दुर्गापुरवा की ओर बढ़ रही है।
250 दिनों तक विधायक राकेश राठौर ने अपनी कार्ययोजना को जिस तरह से लागू किया। रविवार को उसकी समीक्षा का दिन था। कार्ययोजना को सफल हुआ देखने के लिए सदर विधायक राकेश राठौर अपनी टीम के साथ पहले पुराने शहर के घाटों पर पहुंचे। उसके बाद मोहल्ला दुर्गापुरवा पहुंचकर उन्होंने सरायन की साफ-सफाई में जुटे कर्मियों का हौसला भी बुलंद किया। प्रयासों को सफल होते देख विधायक इतने खुश हुए कि उन्होंने काम करने वाले लोगों को गले से लगा लिया। सरायन स्वच्छता और पुर्नजीवन के काम में लगे लोगों को विधायक ने विशेष निर्देश दिए। सीतापुर के किन-किन मोहल्लों में सरायन सफाई का शिडयूल रहेगा। इस बात पर जानकारी विधायक राकेश राठौर के द्वारा ली गई।
वहीं, उन्होंने पाॅलीथीन के उपयोग को रोकने के लिए जनता के हाथ जोड़े। उन्होंने बताया कि गाय हो या गंगा या फिर हमारा जीवन सभी को इस पाॅलीथीन से बहुत बड़ा खतरा है। इसके इस्तेमाल को कम से कम कर हमको अपने शहर के संसाधनों की रक्षा करनी है।

LEAVE A REPLY