नागपुर: सुभाष घाटे ने दी चेतावनी परिवार सहित करेंगे आत्मदहन

82
सुभाष घाटे।

नागपुर। नागपुर महानगरपालिका से बर्खास्त किए गए 17 कर्मचारी विगत कई वर्षों से न्याय के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं और हाईकोर्ट से भी उनके पक्ष में फैसला आ गया है। मुख्यमंत्री द्वारा भी इस बारे में फैसला लेने का अधिकार नागपुर महानगरपालिका आयुक्त को दिया गया है। अब महज 12 कर्मचारियों को ही नौकरी में शामिल करने की जानकारी मिलने से आहत सुभाष घाटे ने अन्याय होने पर परिवार सहित आगामी 15 अगस्त को आत्मदहन करने की चेतावनी दी है।
सुभाष घाटे ने बताया कि मुख्यमंत्री ने सभी 17 कर्मचारियों को काम पर लेने के अधिकार महानगरपालिका आयुक्त को दिए हैं लेकिन कुछ लोग इस कार्य में भी बाधा बन कर महज 12 लोगों के साथ ही न्याय करने की तैयारी में हैं। शेष 5 कर्मचारियों के साथ न्याय नहीं हुआ तो गलत होगा। सुभाष घाटे ने सभी 17 कर्मचारियों को काम पर नहीं लिया तो आगामी 15 अगस्त को अपने सभी परिवारजनों सहित महानगरपालिका के केंद्रीय कार्यालय के सामने आत्मदहन करने की चेतावनी दी है। उल्लेखनीय है कि सुभाष घाटे भाजपा ओबीसी मोर्चा के विदर्भ विभागीय अध्यक्ष भी हैं। साथ ही वह तेली समाज के नेता भी हैं। उन्होंने बताया कि कुल 17 कर्मचारियों में 8 साहू समाज के कर्मचारी भी हैं।

LEAVE A REPLY